UA-149348414-1 मैं और मेरी किताबें

मैं और मेरी किताबें

bebak-shayari
Bagi35007.com



मुझमें और मेरी किताबों में,
बस एक बात कॉमन है,
दोनों ही चुप-चाप
वो सब कुछ बदलने का
ख्वाब देखते हैं
जिनका बदलना अभी बाकी
और जरूरी है...¡!

By- Kashish Bagi


दुनियां में सबसे पहले कत्ल किसकी हुई थी?



और कविताएं पढ़िए -

0 Comments