UA-149348414-1 जब बिलगेट्स ने बोला कि वह नहीं है दुनिया के सबसे अमीर इंसान

जब बिलगेट्स ने बोला कि वह नहीं है दुनिया के सबसे अमीर इंसान

जब बिलगेट्स ने बोला कि वह नहीं है दुनिया के सबसे अमीर इंसान
Image Source - Google


एक बार एक साक्षात्कार में बिल गेट्स से पुछा गया की क्या दुनिया में उनसे ज्यादा अमीर कोई और इंसान हैं।

इस पर बिल गेट्स ने जवाब दिया -

"हां! दुनिया में एक इंसान हैं जो शायद मुझसे भी ज्यादा अमीर हैं।"

थोड़ा रुकने के बाद उन्होंने आगे बोलना शुरू किया -

"यह उस समय की बात हैं जब मेरे पास ज्यादा पैसा नहीं था और में इतना प्रसिद्ध भी नहीं था, मैं न्यू यॉर्क के एयरपोर्ट पर था और वहाँ पर एक न्यूज़ स्टैंड था। मैं एक अख़बार खरीदना चाहता था, पर उस समय मेरे पास पैसे नहीं थे। इसलिए मैंने उसको खरीदने का विचार त्याग दिया और अख़बार वापस दे दिया, और अख़बार वाले को बोल दिया की मेरे पास पैसे नहीं हैं। अख़बार वाले ने मुझसे वह अख़बार लेने का आग्रह किया तो मैंने वह ले लिया "

बिल गेट्स ने गहरी साँस ली और आगे बोले -

"संयोग से ३ महीने बाद मैं उसी एयरपोर्ट पर था और मेरे पास फिर पैसे नहीं थे, अखबार वाले ने मुझे फिर से अख़बार दे दिया, मुझे थोड़ी हिचकिचाहट हुई, पर अखबार वाले ने कहा की यह उसके मुनाफे में से हैं, इसलिए उसको कोई नुक्सान नहीं होगा। उसके यह कहने पर मैंने फिर अख़बार ले लिया"

एक घूट पानी पीकर आगे बोलना शुरू किया -

"१९ साल बाद मैं दुनिया का सबसे अमीर इंसान बना, और एक दिन मुझे उसी अखबार वाले की याद आयी और मैंने उसको ढूंढ़ने की कोशिश शुरू की, लगभग तीन महीने बाद वह मुझे मिल गया। मैंने उससे पुछा क्या वह मुझे पहचानता हैं।"

इसपर उस अख़बार वाले का जवाब था -

"हाँ आप बिल गेट्स हो।"

मैंने उससे पुछा -

"आपको याद हैं एक बार आपने मुझे मुफ्त में अख़बार दिया था। "

"हाँ मैंने आपको दो बार अखबार दिया हैं।"

"मैं उसके बदले आपके लिए कुछ करना चाहता हूँ, आप बताइये मैं आपके लिए क्या कर सकता हूँ?"

इसपर अख़बार वाला बोला-

"सर आप यह करके मेरी मदद की बराबरी नहीं कर सकते।"

इसपर मैंने पुछा -

"क्यों नहीं कर सकता?"

अख़बार वाले का जवाब था -

"मैंने आपकी मदद तब करी जब मैं एक गरीब अखबार वाला था और आप मेरी मदद तब कर रहे हो जब आप दुनिया के सबसे अमीर इंसान हूँ, आप ही बताइये आपकी और मेरी मदद कैसे बराबर हुई।"

बिल गेट्स ने आगे बोला-

"उस दिन मुझे पता लगा की वह अख़बार वाला मुझसे ज्यादा अमीर हैं, क्योंकि उसने किसी की मदद करने के लिए अमीर होने का इंतज़ार नहीं किया, लोगो को यह समझना चाहिए की उसकी अमीर वह लोग हैं जो दिल से अमीर हैं, ना कि जिनके पास बहुत सारा पैसा हैं। अच्छाई आपको दुनिया का सबसे अमीर इंसान बनती हैं, भले ही आपके पास एकदम पैसा ना हो।


0 Comments