UA-149348414-1 Rebel Thoughts(बागी विचार)
बरसात का मतलब है

बरसात का मतलब है बरसात का मतलब है टपकती छत, लहलहाते खेत, बाढ़ में उजड़ते आशियाने, कागज की नाव, बूंदों को खुद में समेट लेने वाली बाहें, होठो से निथरते बारिश की बूंद को चाट लेने वाली जीभ, टर्र टर्र करता मेंढक....¡! बरसात का मतलब है प्रेम का पागलपन, विर…

The Engineer's Chicken Biryani

The Engineer's Chicken Biryani For Hindi slide down / हिदी के लिए नीचे स्लाइड करें Birayani was introduced by Mughals in India. It was a royal dish. Later after ending of monarchy in India descendant of The Royal Cook of Mughals opened restaurant and gradual…

कौन है हम?

कौन हैं हम? कौन हैं हम? और हैं आएं कहा से? क्या है हमारा ठिकाना? हंस देते हैं हम, जो पूछे वो हमसे, बाते यही ये जमाना.....¡! गाते है क्यों? चिल्लाते हैं क्यों हम,)? बेकार है ये बताना। हमारे लिए है, लहू गर्म रखने का छोटा से ये एक बहाना.....¡! मगर याद…

मेरा पहला स्कूल और महिलासशक्तिकरण

मेरा पहला स्कूल और महिलासशक्तिकरण Copyright for this Image goes to It's original Creator मेरा जिस स्कूल में पहली बार पक्का दाखिला हुआ, वो स्कूल उर्दू था, मेरा नाम भी उर्दू था, कुछ अध्यापक उर्दू नाम वाले थे, और कुछ हिंदी नाम वाले भी थे, स्कूली तालीम के…

No hanging please shoot us by Bhagat singh in Hindi

No hanging please shoot us by Bhagat singh in Hindi मैंने 30 से ज्यादा ऐतिहासिक पत्रों और दस्तावेजों का अनुवाद हिंदी से अंग्रेजी और अंग्रेजी से हिंदी में किया है। लेकिन भगत सिंह के जीवन की इस अंतिम याचिका को (जिसे उन्होंने कोर्ट द्वारा अपनी और अपने साथी राजगुरु ए…

ता चढ़ी मुल्ला बांग दे का बहरा हुआ खुदाय- कबीर दास के इस दोहे का सच

ता चढ़ी मुल्ला बांग दे का बहरा हुआ खुदाय- कबीर दास के इस दोहे का सच यदि आप भारत के हिंदी भाषी राज्यों से हैं तो आप कबीर से अनजाने नहीं रह सकते। कबीर दोहे लिखते थे और कमाल के लिखते थे। अपने दोहों से धर्म की विडम्बनाओं और समाज में व्याप्त बुराईयों पर सीधा कटा…

एक जमीं मेरी भी है

एक जमीं मेरी भी है जहां बारिशें छतों से बिस्तर पर नहीं टपकती, जहां न्याय मांगने वालों के बदन पे लाठियां नहीं पड़ती, जहां सिर्फ दो जून की रोटी जुटाने में जूते नहीं घिसते, जहां भूख और इलाज के बिना कोई नहीं मरता, जहां आंखे सिर्फ खुशियों से ही नम होती है, …